+91 6392992003

info@merailaj.com


स्लिम होने के अचूक नुस्खे



स्लिम होने के अचूक नुस्खे

आप अक्सर सोचते होंगे कि आप एक्सरसाइज भी काफी करते हैं, डाइटिंग पर भी अक्सर रहते ही हैं, फिर भी वजन कम नहीं हो रहा। कुछ छोटी-छोटी बातें हम बताते हैं, हो सकता है, इससे आपका वजन कम न होने का रहस्य खुल जाए।


नाश्ते में मीठा

-नाश्ते में मीठे से परहेज करें। आजकल बहुत से फ्लेक्स के पैकेट आ रहे हैं। उनमें मीठा होता है, आप सोचते हैं, मीठा कहां है। ऐसी मीठी चीजें खाने से भूख बढ़ती है। इसकी बजाय अंडा या दलिया (नमकीन) खाएंगे तो भूख देर से लगेगी। यह हम नहीं कह रहे, एक अमेरिकी स्टडी का कहना है।


बिना दूध की चाय

-चाय बिना दूध की लें तो बेहतर है। हमारे साइंटिस्टों ने पाया है कि चाय में थियाफ्लेविंस और थिया रुबिगिन्स तत्व होते हैं, जो वजन घटाने में सहायता करते हैं, कॉलस्ट्रोल भी कम करते हैं, लेकिन दूध चाय के उस गुण को खत्म कर देता है।


ब्रेकफस्ट में ब्रेड

-वाइट बेड बेकफस्ट में बहुत पसंद है आपको। है ना। वह भी मस्का लगाकर। बोस्टन की टफ्ट्स यूनिवर्सिटी के साइंटिस्टों का कहना है कि रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट वाइट ब्रेड हो या चावल, दोनों से ही वजन बढ़ता है। खासतौर से कमर पर ज्यादा चर्बी चढ़ाते हैं।


लेबल तो पढ़ लें

-आजकल बाजार खाने-पीने के सामान की सॉस वगैरह से लेकर न जाने किस-किस चीज की खूबसूरत पैकिंग वाली शीशियां मिल रही हैं। उनके लेबल हम अक्सर पढ़ना भूल जाते हैं। लेबल पढ़ने से आपको पता चल जाएगा कि उसमें कितनी कैलोरी है। आप व्यायाम भले ही थोड़ा कम कर लें, लेकिन लेबल पढ़ना न भूलें।


फ्रूट जूस नहीं, फल

-डॉक्टर और डायटिशियन कहते हैं, फल खाइए, आप फूट जूस पी लेते हैं। दरअसल यह वजन बढ़ाने का नुस्खा है और अगर बाजार के पैक्ड फूट जूस हैं तो उसमें जितना मीठा वगैरह होता है, वह खाने से ज्यादा वजन बढ़ा देता है। अमेरिकन जरनल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन के अनुसार आप केवल फूट जूस की जगह फल खाकर अपना वजन कम कर सकते हैं।


दही खाएं, वजन घटाएं

-दही खाने से भी वजन कम हो सकता है। इंटरनैशनल जरनल ऑफ ओबेसिटी के अनुसार ज्यादा दही खाने वालों का वजन तेजी से घटता है या कम बढ़ता है। दही में कैल्शियम और प्रोटीन फैट को कम करने में सहायक होता है, लेकिन दही या तो टोंड या स्किम्ड मिल्क की हो या फिर दूध की मलाई उतार कर जमाएं। दही रात को न खाएं। सुबह या लंच में बेहतर रहता है।



32 बार चबाइए

-दादी मां कहती थीं खाना चबा-चबा कर खाओ, 32 बार चबा कर खाओ। वही सही है। जितना चबाकर खाएंगे, उतना ही जीभ के जरिए दिमाग को संदेश जाता रहेगा कि वह पाचक रस ज्यादा दे और खाना जल्दी पचेगा।


ऑफिस में दूसरों को देखो

-काम पर आमतौर पर लोग ज्यादा खा लेते हैं। महिलाएं अपने आसपास दूसरों खाता देख ज्यादा प्रभावित होती हैं और 30 परसेंट तक ज्यादा खा लेती हैं।


खूब सोइए

-नींद पूरी होना बहुत जरूरी है। हाल ही में नींद के संबंध में आई एक स्टडी के अनुसार कम सोने से मोटापा बढ़ाने वाले जीन प्रोत्साहित होते हैं। नौ घंटे सोने वालों के मोटापे के जीन सो जाते हैं।


मिलकर कीजिए वेट कम

-दो-तीन लोग मिलकर वजन घटाते हैं तो जल्दी घटता है। ओबेसिटी जरनल की स्टडी के अनुसार जिस तरह ज्यादा खाने वाले दोस्त आपको मोटा बना सकते हैं, उसी तरह वजन कम करने की इच्छा रखने वाले दोस्तों के साथ वजन घटाना आसान भी रहता है। बोरियत भी नहीं होती ना।


मुझे यह नहीं खाना

-आपके सामने केक पेस्ट्री जैसी 'शानदार डिश' रखता है तो आप क्या कहते हैं? अगर आप बेचारगी से कहते हैं, क्या करें हम तो यह खा ही नहीं सकते तो आप पतले नहीं हो सकते। बफैलो यूनिवसिर्टी की डा. वेनेसा पैट्रिक के अनुसार आपको कहना चाहिए, मैं यह नहीं खाता/खाती। आपका पक्का इरादा ही आपको वजन घटाने की ताकत देता है।